Uric Acid Symptoms in Hindi | यूरिक एसिड के लक्षण क्या क्या होता है

Uric acid symptoms in hindi: आज के ब्यस्त जीबन में लोग आपने स्वास्थ का ख्याल बिलकुल नही रख रहा है. इसीलिए बहुत सारे बीमारी का सामना करना पड़ रहा है. तो एसे ही आज हम uric acid symptoms in hindi के बारे में details में जानेंगे, जो की सभी लोगो को जानना बहुत जरुरी है, तो अंतिम तक बने रहिये.

बर्तमान समय में खुदका सहेत का ख्याल रखने का वक्त किसी के पास नही है क्युकी आपने काम, काजो में ज्यादा बिजी रहते है. और एसे में खानपान का ध्यान भी नही रखते है. इसीलिए सभी लोग कुछ ना कुछ बीमारी का शिकार बनते जा रहा है.

बदलती जीबन शेली के बिच बीमारी का रूप भी बदलता जा रहा है. हमारे शारीर में uric acid को छानने का काम किडनी करता है. एसे में आगार किडनी का छानने की शमता काम हो जाता है तो uric acid in hindi का मात्रा बड़ जाता है. एसे में बहुत सारे problem दिखाई देते है.

तो चलिए देखते है की uric acid symptoms in hindi क्या क्या होता है. लेकिन उससे पहले जानेंगे की Uric acid in hindi क्या है.

यूरिक एसिड क्या है – What is Uric Acid in Hindi

uric acid symptoms in hindi

हम लोग जो भी खाते पीते है उसी से ही uric acid बनता है. यूरिक एसिड किडनी के जरिये चानके मलमूत्र के जरिये बहार निकाल जाता है. एसे में अगर शारीर में यूरिक acid ज्यादा बन रहा है तो किडनी के छानने की शमता कम हो जाता है और यूरिक एसिड हमारे शारीर में जम जाते है.

यूरिक एसिड शारीर में जम जाने से बहुत सारे समस्या देखने को मिलता है. जैसे की हड्डियों में दर्द, कमर में, गर्दन में, घुटनों में दर्द होने लगता है. इसके अलाबा किडनी के समस्या, ह्रदय का भी समस्या भी हो जाता है.

यूरिक एसिड के लक्षण (Uric acid symptoms in hindi)

शुरुवाती समय में uric acid symptoms के बारे में कुछ भी पता नही चलता है. ज्यादातर लोगो को ये भी नही पता होता है की यूरिक एसिड बड़ने की लक्षण को कैसे पहचाने. तो चलिए देखते है की uric acid symptoms in hindi क्या होता है जिसे आसानी से पहचाना जाये.

जोड़ो में दर्द

यूरिक एसिड जब हमारे शारीर में जम जाते है तो बो ब्लड में भी जमता है. तो एसे में खून में यूरिक एसिड बड़ जाता है और हमारे शारीर के जोड़ो में, गाट में, गर्दन में तेज दर्द होता है. उठने बैठने में बहुत problem होता. एसा दर्द होता है जिसे सहन करना बहुत मुश्किल होता है. ये एक बहुती बड़ा uric acid symptoms in hindi होता है.

उंगलियो में दर्द

हाथो की उंगलियो और पैर की उंगलियो में बहुत ज्यादा दर्द होता है. जिसे सेहन करना बहुती मुश्किल होता है. क्युकी यूरिक एसिड हमारे खून में जमता है इसीलिए सारे शारीर में इसका असार देखने को मिलता है. इसके अलाबा उंगलियो में सुजन भी आ जाता है.

ज्यादा प्यास लगना

आप कुछ भी कार्य करते हो, आपको बहुत जल्दी ही प्यास लगता है, यानिकी बार बार प्यास लगता ही जाता है. ये भी एक लक्षण होता है यूरिक एसिड बड़ने का. तो इनको भी आपको नजर अंदाज नही करना चाहिए.

बुखार आना

अगर आपका शारीर में यूरिक एसिड की मात्रा बड़ जाता है तो आपको बार बार बुखार आता है. यानिकी आपके शारीर में से बुखार जाने की नाम ही नही लेता है, हल्का सा बुखार लगे ही रहता है. तो अगर ये लक्षण किसी में है तो तुरंत दोक्टोरो से सलाह लेना चाहिए.

मांसपेसियो में दर्द

Uric acid मांसपेसियो में छोटे छोटे टुकड़ो में क्रिस्टल के रुप मे जमा हो जाता है. इसके कारन पुरे बदन में दर्द महसूस होता है. कुछ अच्छा नही लगता है. एसे में आपको दोक्टोरो से सलाह लेना जरुरी होता है.

इनमे से कोई भी लक्षण दिखे तो आपको नजर अंदाज नही करना चाहिए, आपको दोक्टोरो से सलाह लेकर उनके मुताबिक दबाह लेना जरुरी होता है.

लेकिन आपके मन में एक सवाल जरुर आता होगा की आखिर ये यूरिक एसिड की मात्रा बड़ता क्यों है. क्यों ये यूरिक एसिड हमारे शारीर में नुकसान शाबित करता है. तो चलिए  देखते है.

uric acid symptoms in hindi

यूरिक एसिड बड़ने की कारन (Uric Acid symptoms in Hindi)

हमारे शारीर में यूरिक एसिड की जरुरत होता है और जब तक इसका मात्रा सही रहता है तब तक कोई समस्या नही होता है. लेकिन जब इसका मात्रा बड़ जाता है तब problem शुरू होता है. लेकिन इसका कारन क्या क्या होता है चलिए देखते है.

  • यूरिक एसिड की बड़ने की मुख कारन होता है हमारे खान पान और डेली लाइफस्टाइल में बदलाब होने से.
  • रेड मिट, दाल, गोभी, टमाटर, राजमा, मटर, पनीर ये सारे चीजे ज्यादा खाने से भी यूरिक एसिड की मात्रा बड़ता है.
  • अधिक समय तक खाली पेट रहना भी यूरिक एसिड बड़ने का कारन हो सकता है.
  • अगर कोई ब्यक्ति डायबिटीज मरीज हे तो उनके शारीर में यूरिक एसिड की मात्रा ज्यादा होना तय है. क्युकी डायबिटीज की दबाई लेने से यूरिक एसिड की मात्रा बड़ता है.
  • अगर बजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करता है तो भी यूरिक एसिड की मात्रा बड़ने के खतरा रहता है.
  • अगर कोई ब्यक्ति शराब पिता है तो उनके शारीर में यूरिक एसिड की मात्रा बड़ने की संभाबना रहता है.

ये सारे चीजे आपको ध्यान में रख के ही आपने कार्य करना है. ताकि आपके शारीर में uric acid symptoms नही दिखाई दे और आप इससे जुड़े सारे बीमारी से दूर रह सको.

Uric Acid symptoms in hindi से खुदको कैसे बचाए

  • ज्यादा पानी पिए.
  • पेट कभी भी खाली ना रखे.
  • लाल मांस, पनीर, चिकेन जैसे खाने से दूर रहे.
  • शराब पीना बंद कर दे.
  • हमेशा कुछ ना कुछ बयाम करते रहिये.
  • आपने खाने के लिस्ट से उन सारे खाना को दूर रखे जिसे यूरिक एसिड की मात्रा ज्यादा होने का संभाबना हो.

अगर आप इन सारे चीजो को ध्यान रखते हो तो आप खुद को uric acid से बचा सकते हो. तो सभी लोगो को ये सारे बाते ध्यान में रखना होगा तभी हमारे शारीर में यूरिक एसिड की मात्रा सही रहेगा.

Conclusion 

तो आज के ये आर्टिकल uric acid symptoms in hindi आपको कैसा लगा. मुझे पूरी उम्मीद है की आपको ये आर्टिकल से जरुर कुछ सिखने को मिला होगा. इस आर्टिकल से जुड़े और भी कुछ सवाल हो आपके मन में तो आप मुझे comment करके जरुर पुच सकते हो जिसका जवाब में देने की पूरी कौशिश करूँगा.

आगे पड़े 

Water pollution in हिंदी में पूरी जानकारी 

 

Leave a Comment