Meditation in Hindi | ध्यान कैसे करे | Meditation Meaning in Hindi

Meditation in Hindi: आज के इस लेख में आपको बताऊंगा की ध्यान कैसे करे. बहुत लोगो को पता ही नही हे की ध्यान से सिर्फ हमारा मन ही संत नही होता है बल्कि हमारे जीबन में कही तरह का काम करने के लिये मदद करता है जिसे हमारा जीबन बेहतर हो साके. तो चलिए देखते है की meditation kaise kare, ध्यान कैसे करे, meditation in hindi क्या है.

आज के समय में लगभग सभी लोग चाहे बो एक स्टूडेंट हो, बिज़नस मन हो या नौकरी करने वाला कोई भी इन्सान हो. सभी लोग मानसिक रूप से परेशान रहता है और इसीलिए बो लोग पैसे तो बहुत कमा लेता है लेकिन उनके जीबन में शांति नही मिलता है.

सभी लोगो के आपने जीबन की एक उदेश्य होता लेकिन लोग इतना ब्यस्त रहता है की आपने जीबन के उदेश्य क्या है खुद को पता ही नही चलता है.

हर इन्सान के जिन्दगी में उताब चड़ाव आता जाता रहता है जैसे की सफलता पाना, खोना, हारना, डरना, तो बहुत सारे लोग इन सारे परिस्थिति का सामना करता है और बहुत सारे लोग डर कर हर मन जाता है.

लेकिन एसा क्यों होता है की एक ही परिस्थिति में दो लोग अलग अलग वरताब करता है, एक लोग सामना कर पता है और दुशरे लोग डर जाता है. लेकिन एसा क्यों होता है तो इसका जवाब है Immune system के वाजासे.

तो जो लोग बहुत डर जाता है उन सभी लोगो के लिए Meditation यानि की ध्यान एक अच्छा इलाज है. जो लोग meditation करता है उनके सिर्फ मन ही संत नही होता है बल्कि आपना स्वास्थ भि९ अच्छे होता है.

Contents hide
1 ध्यान क्या है ? (Meditation Meaning in Hindi)

ध्यान क्या है ? (Meditation Meaning in Hindi)

Meditation in Hindi ध्यान कैसे करे Meditation Meaning in Hindi

Meditation का मतलव होता है ध्यान करना. ध्यान करना एक क्रिया होता है जिसमे इन्सान आपने अन्दर की अंतरात्मा से जुड़ सकता है. हमारा अंतरात्मा हमेशा सही होता है. आगार कोई इन्सान आपने अंतरात्मा की बात हमेशा सुनता है तो वो खुश रहता है क्युकी अंतरात्मा हमेशा सही होता है.

जव भी हम किसी के साथ बुरा करते है तो उस समय हमरा अंतरात्मा हमेशा रोकने की कौसिश करता है और बोलता है की ये गलत है ये नही करना चाहिए. लेकिन जब हम अंतरात्मा की बातो को नही सुनते है और गलत काम करते है तो हमारे साथ हमारे अंतरात्मा से संपर्क कमजोर हो जाता है.

लेकिन जब से आप अंतरात्मा की बात नही सुनोगे तब से आपको अंतरात्मा की बात नही सुनाई देगा और आप जो भी काम करोगे, चाहे बो सही हो या गलत आपको सभी काम सही लगेगा.

इस तरीके से जब आपने आपके अंतरात्मा से बाते होना बंद हो जाएगा तब से आप उदाश रहने लगोगे, आपने जीबन से खुसिया चला जायेगा, हमेशा तनाव में रहने लगोगे.

लेकिन इन परिस्थिति से आपने आपको वाहार लाया जा सकता है और बो सिर्फ और सिर्फ ध्यान करने से यानिकी Meditation in hindi से.

Meditation यानिकी ध्यान करने से आपको बहुत आच्छा महसूस होता है जैसे की रातो को सोने के बाद सुबह उठने से फ्रेश ओरे एनर्जी महसूस होता है ठीक बैसे ही. लेकिन meditation का मतलब सोना नही है बल्कि जागते हुए ध्यान करना होता है.

ध्यान कैसे करे ? (How to do meditation in hindi)

Meditation करने की यानिकी ध्यान करने के लिए कुछ नियम यानिकी तरीका होता है जिसे आपको फॉलो करके करना पड़ता है. तो चलिए देखते है की ध्यान करने की तरीका क्या है.

शांत जगह का चुनाव ( Silent place for meditation in hindi )

अगर आप meditation शुरू करना चाहते हो तो सबसे पहले आपको एक शांत जगह की जरुरत होगा जहा पर आप ध्यान शुरू कर सकते हो. क्युकी ध्यान करते समय अगर आपका मन भटक जाये तो ध्यान नही हो सकता है.

लेकिन जो लोग बहुत दिनों से ध्यान कर रहा है उन्हें अगर किसी प्रकार का आवाज सुनाई दे तो भी उनके ध्यान भटकता नही है. तो अगर आप ध्यान शुरू करना चाहते हो तो ये बात का हमेशा ध्यान रखे.

समय का निर्धारण ( Time table for meditation in hindi )

ध्यान करने के लिए आपको सही समय का चयन करना बहुत जरुरी होता है. लेकिन ध्यान करने के लिए सूबह का समय सबसे अच्छा माना जाता है. लेकिन अगर आप किसी कम के वाजासे नही कर  पाते हो तो साम को भी कर सकते हो. लेकिन आपको दिन में एक बार जरुर करना है.

सही प्रकार की कपड़ो का चयन ( Comfortable dress for meditation in hindi )

ध्यान करने के लिए सही प्रकार की कपड़ो का चयन करना भी बहुत जरुरी होता है. अगर आप जिन्स यातो टाइट टी-शर्ट ना पहने बल्कि आरामदायक कपड़े पहनके की ध्यान करे.

ढीला कपड़े पहनने से साँस लेने में कोई तकलीफ नही होता है. तो इसीलिए ये बातको हमेशा ध्यान रखा करे.

Meditation in Hindi ध्यान कैसे करे Meditation Meaning in Hindi

पेट खाली रखे (Empty Stomach for Meditation in hindi )

जब भी आप medittation करने के लिए जाओगे तो आपको हमेशा ये बात ध्यान रखना है की आपको कुछ भी खाना नही खाना है.; आपका पेट हमेशा खाली होना चाहिए. खाली पेट से meditation करने से आपको साँस लेने में कोई तकलीफ नही होता है.

अगर आप खाना खाके ध्यान करने के लिए जाओगे तो आपको साँस लेने में, बैठने में, बहुत तकलीफ होगा. और खाना खाने के बाद नींद भी आने लगता है.

आराम से बैठे ( Sit comnfortable for meditatation )

सबसे पहले आपको आपना पैरो को मोड़ कर बैठना है और आपने शारीर को सीधा रखना है. कही सारे लोग आपने पैरो को एक दुशरे के ऊपर रखकर बैठता है.

एसा करते समय आपने आँखों को बंद कर के रखे.

गहरी साँस लेना है ( Deep breaths for meditation )

आराम से बैठने के बाद ध्यान करने से पहले गहरी साँस लेना बहुत जरुरी होता है. इसे आपका साँस नाली सक्रिय हो जाता है और मन संत हो जाता है. अगर ध्यान करने से पहले ये काम करते हो तो आपका शांतिपूर्ण ध्यान होगा.

सोचना बंद करे ( Stop thinking for meditation in hindi )

ध्यान करते समय कुछ भी आलतू फालतू नही सोचना है, जैसे की घर में क्या चल रहा है, आस पड़स में क्या चल रहा है, बिलकुल भी ये सव चीजे नही सोचना है. एकाग्रता से ध्यान में फोकस करना है.

एसा आपको लगातार करना है और एक दिन नही बल्कि रोजाना करना है.

आँखे खोले ( Open your eyes for meditation in hindi )

जब भी आपका ध्यान ख़त्म होने जायेगा तब आपको आपने आंखे जल्दी नही खोलना है. धीरे धीरे आपने आंखे को खोलना है. धीरे धीरे आसपास के चीजे के बारे में सोचे ताकि दिमाग में किसी भी तरह का जोर ना लगाये.

ध्यान करने की फायदे -( Benefits of meditation in hindi )

पहले ही में आपको बता चूका हु की meditation करने से आपको शांति, एनर्जी मिलता है जैसे की जब भी आप सूबह नींद से जागते हो तो आपको फ्रेस एनर्जी मिलता है ठीक बैसे ही होता है. लेकिन meditation एक एसी क्रिया है जिसके माध्यम से आपने जीबन के कही सारे समस्या को दूर किया जा सकता है.

तो चलिए देखते है की ध्यान करने की फायदे, benefits of meditation, meditation in hindi क्या क्या है.

मानशिक तनाव दूर होता है

एक सर्वे के अनुसार ये पाया गया है की जितने भी लोग ध्यान करते है उन लोगो की मानशिक तनाव दूर होता है. और ये बाते बिशेशग्य ने भी शिकार किया है. ध्यान करने से चिता, भय, स्ट्रेस भी दूर किया जा सकता है.

तो इसीलिए आगार आप तनाव मुक्त जीबन जीना चाहते हो, जीबन में शांति पाना चाहते हो तो आज से ही ध्यान करना शुरू करे.

गुस्सा काबू में करे

आज काल लोगोने छोटे मोटे कामो को लेकर ज्यादा गुस्सा करता है. लेकिन क्या आप लोग कभी ये सोचा हे की लोगो में गुस्सा क्यों आता है. क्युकी जो लोग हमेशा चिंता करता है, जो लोग स्ट्रेस में रहता है वो लोग ज्यादा गुस्सा करता है.

लेकिन आगार आप रोजाना मैडिटेशन करते हो तो आप आपने गुस्सा को धीरे धीरे काबू कर सकते हो. और आपका मन हमेशा खुश रहता है, चिंता मुक्त रहता है.

Meditation in Hindi ध्यान कैसे करे Meditation Meaning in Hindi

नींद पूरी करने में मदद

आपने जीबन में डिप्रेशन, स्ट्रेस, चिंता, मानशिक तनाव इत्यादि के कारन हमेशा हमारे जीबन में नींद में बहुत समस्या होता है. तो अगर आप रोजाना ध्यान करते हो तो आपके सारे परेशानी धीरे धीरे दूर होता है और इसका फायदे नींद में भी देखने को मिलता है.

तो आगार आपके नींद पूरी होने में कोई भी समस्या हे तो मेरा आपसे निबेदन हे की आप जरुर मैडिटेशन शुरू करे ताकि आपको नींद में भी इसका आसार देखने को मिले.

याददाश्त बड़ाने में मदद

आपने देखा होगा कुछ लोगो को ये बोलते हुए की मुझे भूलने की बीमारी है, में हमेशा कुछ ना कुछ चीजे भूल जाता हु. उन सारे लोगो के लिए meditation करना यानिकी ध्यान करना एक रामबाण एलाज है.

जैसे की meditation करने से शारीरिक समस्या दूर होता है ठीक बैसे ही हमारा दिमाग में ब्लड संचालन अच्छा होता है जिससे दिमाग की याददास्त बड़ती है.

ब्लडप्रेशर कण्ट्रोल में रहता है

मैडिटेशन करने की बहुत सारे फायदे के बारे में तो आप लोग जान चुके हो लेकिन इसका सबसे बड़ा फायदे हे की ब्लडप्रेशर को कण्ट्रोल करे. हलाकि ब्लडप्रेशर को कम करने के लिए जिस तरह से मेडिसिन काम आता है ठीक बैसे ही ध्यान करने से काम होता है.

मैडिटेशन की नुकसान (Side effect of meditation )

जैसे की में आपको meditation की फायदे के बारे में बताया ठीक बैसे ही meditation की कुछ नुकसान भी है. तो चलिए देखते हे की ध्यान करने का क्या नुकसान है.

  • मैडिटेशन के बारे में सही जानकारी ना होने के कारन सही तरीके से अभ्यास नही कर पता है. इसीलिए कुछ गलती हो जाता है.
  • सही समय पर मैडिटेशन ना करने की वाजासे हमारा शारीर में कुछ लाभ नही होता है.
  • नियिमित समय और तरीके से मैडिटेशन ना करने की वाजासे नुकसान की सामना करना पड़ता है.
  • कुछ अच्छे आवाज यानिकी कुछ शांत मैडिटेशन म्यूजिक सुन सकते हो, जिसे की आपके मन शांत राहे और ध्यान करने में एकाग्रता हो साके.

मैडिटेशन की प्रकार- Types of Meditation in hindi

साधारण भाषा में अगर ध्यान को देखा जाये तो इसका कोई प्रकार नही होता है, लेकिन कुछ परिस्थिति के वाजासे मैडिटेशन को कुछ प्रकारों में बिभाजन किया गया है. जैसे की समाज में एसा बहुत सारे लोग होता जो लोग कुछ भी समस्या को लेकर ज्यादा चिंतित रहता है. और एसा बहुत सारे लोग भी होता है जो लोग कुछ भी परिस्थिति को सामना कर पता है.

और भी लोग होता है, जो की कुछ करने की सोचा और नही हुवा तो आपने आप में ही कुछ नुकसान कर देता है. तो इन लोगो के लिए ही मैडिटेशन को कुछ प्रकारों में बिभाजन किया गया है.

·         सहज योग मेडिटेशन ( Sahaj Yoga Meditation )
·          विपश्यना ध्यान ( Vipashana meditation )
·         त्राटक ध्यान ( Tratak meditation )
·         थर्ड आई ध्यान ( Third eye meditation )

Conclusion

आज के ये लेख meditation in hindi आपको कैसा लगा, मुझे पूरी उम्मीद है की आपको ध्यान कैसे करे के बारे में पूरी जानकारी मिला होगा. तो इस लेख के बारे में और भी कोई जानकारी हो तो आप comment के जरिये बता सकते हो.

और आज के आर्टिकल meditation meaning in hindi आपको कैसा लगा comment करके भी बता सकते हो. तो आपना  ख्याल रखियेगा.

आगे पड़े …..

Olive Oil benefits इन हिन्दी 

 

Leave a Comment